Snoring

For English

खर्राटे का इलाज

खर्राटे लेना एक ऐसी समस्या है, जो ग्रसित से ज्यादा दूसरों को परेशान करती है। जो व्यक्ति खर्राटे लेता है, उसे तो इसका एहसास कम ही होता है, लेकिन साथ में सोने वाले की नींद पूरी तरह खराब हो जाती है। ऐसे में, अगले दिन टोके जाने पर अक्सर शर्मिंदगी महसूस होती है और मन में आता होगा कि खर्राटे बंद करना बहुत जरूरी है। इस लेख में हम खर्राटों के बारे में विस्तार से बात करेंगे। 

Snoring Treatment

खर्राटे आने का कारण :

  • अधिक वजन होना
  • गर्भावस्था की पहली तिमाही से टिश्यू में सूजन
  • एलर्जी या जुखाम के कारण बंद नाक
  • नेजल पोलिप्स (नाक के अंदर बिना कैंसर वाली गांठ)
  • मुंह के ऊपर के टिश्यू में सूजन
  • जीभ का सामान्य से अधिक बड़ा होना
  • बुढ़ापे, नींद की गोलियों या सोते समय शराब के सेवन के कारण कमजोर मांसपेशियां।
  • कुछ मामलों में यह स्लीप एपनिया के कारण भी हो सकता है।

For Consultation

कृपया अपना रोग बताए